Monday, 14 August 2017

जन्माष्टमी के पावन त्यौहार की आप सभी को बहुत-बहुत शुभकामनाएँ |...



जन्माष्टमी के पावन त्यौहार की आप सभी को बहुत-बहुत शुभकामनाएँ | हम आशा करते हैं की भगवान कृष्ण जल्द से जल्द आपकी सभी मनोकामनाएँ पूर्ण करें और आपके घर-परिवार में सुख-संपत्ति का वास हो | महामंत्र: क्लीं कृष्णाय वासुदेवाय हरिः परमात्मने | प्रणतः क्लेशनाशाय गोविंदाय नमो नमः ll मंत्र: ॐ वासुदेवाय नमः || श्री कृष्णजन्माष्टमी भगवान श्री कृष्ण का जनमोत्स्व है। योगेश्वर कृष्ण के भगवद गीता के उपदेश अनादि काल से जनमानस के लिए जीवन दर्शन प्रस्तुत करते रहे हैं। जन्माष्टमी भारत में हीं नहीं बल्कि विदेशों में बसे भारतीय भी इसे पूरी आस्था व उल्लास से मनाते हैं। श्रीकृष्ण ने अपना अवतार श्रावण माह की कृष्ण पक्ष की अष्टमी को मध्यरात्रि को अत्याचारी कंस का विनाश करने के लिए मथुरा में लिया। चूंकि भगवान स्वयं इस दिन पृथ्वी पर अवतरित हुए थे अत: इस दिन को कृष्ण जन्माष्टमी के रूप में मनाते हैं। इसीलिए श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के मौके पर मथुरा नगरी भक्ति के रंगों से सराबोर हो उठती है। श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पावन मौके पर भगवान कान्हा की मोहक छवि देखने के लिए दूर दूर से श्रद्धालु आज के दिन मथुरा पहुंचते हैं। श्रीकृष्ण जन्मोत्सव पर मथुरा कृष्णमय हो जात है। मंदिरों को खास तौर पर सजाया जाता है। ज्न्माष्टमी में स्त्री-पुरुष बारह बजे तक व्रत रखते हैं। इस दिन मंदिरों में झांकियां सजाई जाती है और भगवान कृष्ण को झूला झुलाया जाता है। और रासलीला का आयोजन होता है। कृष्ण जन्माष्टमी पर भक्त भव्य चंडीनी चौक, दिल्ली (भारत) की खरीदारी सड़कों पर कृष्णा झुला, श्री लाडू गोपाल के लिए कपड़े और उनके प्रिय भगवान कृष्ण को खरीदते हैं। सभी मंदिरों को खूबसूरती से सजाया जाता है और भक्त आधी रात तक इंतजार करते हैं ताकि वे देख सकें कि उनके द्वारा बनाई गई खूबसूरत खरीद के साथ उनके बाल गोपाल कैसे दिखते हैं। janamashtmi,janmashtmi 2017,shri krishna,jai maa vaishno devi,janmasthmi ke upaya,जन्माष्टमी,कृष्ण जन्माष्टमी 2017,14 august,krishna janmashtami 2017,श्री कृष्ण जन्माष्टमी,krishna,krishna janmashtami,krishna bhajans,janmashtami,janmashtmi,janmashtami upay,janmashtami puja,janmashtami pooja,janmashtami vrat,janmashtami video,janmashtami videos,hare rama hare krishna,15 august,radhe radhe,mathura janmashtami,vrindavan janmashtami,janmashtami 2017 by How To Learn Astrology in Hindi



via Tumblr http://ift.tt/2uDmZcu

No comments:

Post a comment